Shopping Cart
अयोध्या में राम मंदिर भूमि पूजन आज, पीएम मोदी के संदेश पर दुनिया की नजर
[responsivevoice_button voice="Hindi Female" buttontext="Listen"]
News Reporter- Zindagi Online
Posted- 2 years ago

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज राम मंदिर भूमि पूजन कार्यक्रम में हिस्सा लेने एवं मंदिर के शिलान्यास के लिए अयोध्या पहुंचेंगे। इस ऐतिहासिक मौके के लिए अयोध्या नगरी सज धज कर तैयार है, सारी सजावट और भूमि पूजन की तैयारियां पूरी की जा चुकी हैं।  

पीएम के हाथों  आज शुभ मुहूर्त में मंदिर के गर्भगृह में पहली ईंट रखने का सभी को इंतजार है। यहां यह उत्साह मंदिर बनने तक अखंड भक्तिभाव से जारी रहेगा। घरों-प्रतिष्ठानों, रास्तों पर केसरिया रामध्वजा लहराने के साथ 12 स्वागत द्वार और जबरदस्त लाइटिंग की गई है। पीली रंग में रंगी रामनगरी आध्यात्मिक उर्जा बयां कर रही है। यहां आकर मोदी क्या संदेश देंगे, इस पर पर न सिर्फ भारत बल्कि पूरी दुनिया की नजर है। दुनिया भर में राम भक्त इस अद्भुत बेला का इंतजार कर रहे हैं। वहीं दुनियां भर में लोग आज पीएम मोदी के संबोधन का बेसब्री से इंतजार कर रहे हैं। 
  राममंदिर का शिलान्यास पूरे विश्व के लिए एक अखंड और विकसित हिदुस्तान की नींव डालेगा। भारत पूरी दुनिया में विश्व गुरु बनकर सामने आयेगा। दुनिया का हर देश भारत की धार्मिक ज्ञान का लोहा मानेगा।
बुधवार को शुभ मुहूर्त दोपहर 12 बजकर 15 मिनट 15 सेकंड पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के हाथों श्रीराम जन्मभूमि स्थल पर मंदिर निर्माण के लिए भूमिपूजन के साथ ही औपचारिक रूप से मंदिर निर्माण के कार्य का शुभारंभ हो जाएगा। प्रधानमंत्री कार्यालय ने भी पीएम के कार्यक्रम की पुष्टि कर दी है।

इसके साथ ही करोड़ों रामभक्तों की प्रतीक्षा के साथ ही उनके सारे संशय और असमंजस भी समाप्त हो जाएंगे। उन हजारों दिवंगत आत्माओं को शांति मिल जाएगी, जो इस स्थान पर भव्य राममंदिर निर्माण के संकल्प और सपने के साकार होने की प्रतीक्षा करते-करते संसार से चले गए। अब लोगों को इंतजार रहेगा तो सिर्फ उस घड़ी का कि मंदिर निर्माण पूर्ण होने के बाद रामलला अपने मूल स्थान पर कब विराजेंगे। 

अयोध्या में मीलों पहले से ही भूमिपूजन को लेकर राजमार्गों पर सैकड़ों होर्डिंग्स लगी हुई हैं। इन होर्डिंग्स में बस एक ही संदेश लिखा है कि पीएम मोदी भूमिपूजन करेंगे।

पर, यह इंतजार पहले जैसा नहीं होगा। मंदिर निर्माण की शुरुआत सिर्फ रामभक्तों की ही नहीं, उन शिलाओं और पत्थरों की भी प्रतीक्षा समाप्त करेगी जो कई दशकों से राममंदिर में अपने ठौर की प्रतीक्षा कर रहे हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Board Portal Computer software

Board website software provides an easy-to-use interface with regards to board appointments. It enables users to